मुंह में राम बगल में छुरी: उत्तराखंड में भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलना विधायक को पड़ा भारी

मुंह में राम बगल में छुरी: उत्तराखंड में भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलना विधायक को पड़ा भारी

उत्तराखंड की सरकार और सरकार के सिरमौर इस बात का अक्सर दावा करते हैं, कि उत्तराखंड में भ्रष्टाचार को लेकर ज़ीरो टॉलरेंस की नीति है.लेकिन ये दावे अब खोखले नजर आ रहे हैं, सरकार की कथनी और करनी में अंतर स्पष्ट दिख रहा है.मौजूदा मामला एक विधायक के लिए कारण बताओ नोटिस जारी...
नमामि गंगे : योजना जो सपनों में रह गयी

नमामि गंगे : योजना जो सपनों में रह गयी

लॉकडाउन के दौरान भी गंगा नदी के जल की गुणवत्ता में सुधार नहीं हुआ. एक रिपोर्ट में गंगा नदी के पानी को स्नान के मानकों पर बेहतर नहीं समझा गया. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कहा है कि ऐसा नदी में अवशिष्ट पदार्थों के छोड़े जाने और पहाड़ों से ताजा पानी नहीं आने से...
बिहारः किसानों की मदद के दावे हवा हवाई, लक्ष्य का एक प्रतिशत गेहूं नहीं खरीद पाई सरकार.

बिहारः किसानों की मदद के दावे हवा हवाई, लक्ष्य का एक प्रतिशत गेहूं नहीं खरीद पाई सरकार.

बिहार की सरकार ने इस बार किसानों से 7 लाख टन गेहूं खरीदने का लक्ष्य रखा था, लेकिन आंकड़ों के हिसाब से सरकार ने 0.71% गेहूं ख़रीदा है.  चुनावी मौसम में केवल बयानबाज़ी करके ही लोगों को खुश करती दिख रही है बिहार की सरकार. कोरोना महामारी के बीच जब किसान लाभकारी मूल्य पर...
‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’: सिर्फ मार्केटिंग की कीमत 393 करोड़

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’: सिर्फ मार्केटिंग की कीमत 393 करोड़

सरकार ने बीते 6 सालों में ‘बेटी बचाओ-बाटी पढ़ाओ’ अभियान पर लगभग 393 करोड़ रुपये विज्ञापन में ही खर्च कर दिया. जिस योजना का उद्देश्य लड़कियों को शिक्षा देना, लड़कियों के जीवन को सुरक्षित बनाना था. वह योजना अखबारों, टीवी स्क्रीन और पोस्टरों तक ही सीमित रह गयी. योजना...
MSP : राजनीति की भेंट चढ़ रहा है  किसान

MSP : राजनीति की भेंट चढ़ रहा है किसान

आजकल किसानों को लेकर पूरे देश में हंगामा जारी है. सड़क से लेकर संसद तक किसानों की चर्चा हो रही है. इन सब की वज़ह है सरकार के द्वारा पास किए गए तीन बिल. तीनों बिल लोकसभा और राज्यसभा में भी पास हो गए है. राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद तीनों बिल कानून बन जाएंगे.  तीनों...