उत्तर प्रदेश में डगमगा रहे ‘नीले’ कदम, शह-मात के खेल कौन मारेगा बाजी?

उत्तर प्रदेश में डगमगा रहे ‘नीले’ कदम, शह-मात के खेल कौन मारेगा बाजी?

यूपी में राज्यसभा चुनाव को लेकर चले शह-मात के खेल में सपा ने बसपा के बागियों ने को शह क्या दी, बिफरीं मायावती ने खुद के लिए मुश्किलों भरी राह अपना ली है. विधान परिषद चुनाव में सपा को सबक सिखाने की सौगंध के साथ बीजेपी के प्रति जो नरम रुख बसपा मुखिया ने दिखाया है. उसके...
एक सप्ताह में तीसरी बार एनएच 33 पर फटी पाइप लाइन, पानी के लिए तरस रहे मानगोवासी

एक सप्ताह में तीसरी बार एनएच 33 पर फटी पाइप लाइन, पानी के लिए तरस रहे मानगोवासी

टाटा -रांची राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण की वजह से मानगो वासियों को पानी के लिए आफत आ पड़ी है. सड़क निर्माण की वजह से आए दिन पाइप लाइन फटने के कारण पेयजल स्वच्छता विभाग से लेकर पानी सप्लाई करने वाली एजेंसी भी सकते में है. पिछले एक सप्ताह के अंदर तीसरी बार पाइप लाइन...
एक्सपायरी डेट और स्टॉक रजिस्टर में गड़बड़ी, जन औषधि केंद्र सील

एक्सपायरी डेट और स्टॉक रजिस्टर में गड़बड़ी, जन औषधि केंद्र सील

बौराड़ी अस्पताल के प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को औषधि निरीक्षक ने सील कर दिया गया है. बीते दिन जन औषधि केंद्र से  जिला अनुश्रवण व निगरानी समिति ने निरीक्षण के दौरान एक्सपायरी डेट वाली दवाइयां बरामद की है. साथ ही कारण बताओ नोटिस भी केंद्र संचालक को सौंप दिया है....
बिजली का घोटाला ! फर्जी एफिडेविट लेकर दे दिया 120 किलोवॉट का कनेक्शन

बिजली का घोटाला ! फर्जी एफिडेविट लेकर दे दिया 120 किलोवॉट का कनेक्शन

बिजली कनेक्शन का ऑनलाइन आवेदन करने के दौरान तमाम जानकारियां आवेदकनर्ता से ली जाती हैं. आवेदनकर्ता  रजिस्ट्री और आधार कार्ड की प्रतिलिपि डाउनलोड करते है. ऑनलाइन आवेदन करने के बाद ही बिजली कनेक्शन होता है. 120 किलोवॉट का बिजली कनेक्शन फर्जी हलफनामे...
सरकार पेयजल के लिए तरस रहे है लोग, गुज़ारिश है जल्द पेयजल संकट को करें दूर

सरकार पेयजल के लिए तरस रहे है लोग, गुज़ारिश है जल्द पेयजल संकट को करें दूर

राज्य गठन के 20 साल बाद भी 1.78 लाख घरों में पानी सप्लाई नहीं है. या तो फिर यूं समझे की इन घरों के लिए कोई पंपिंग वाटर सप्लाई स्कीम ही नहीं बनी. 599 गांव के घरों में पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन आधारित योजना नहीं है. क्षेत्रों में निजी ट्यूबवेल, सरकारी हैंडपंप,...
यूपीः बीत गया नवरात्र, सड़के अभी गड्ढा युक्त हैं सीएम साहब, अधिकारी कब जागेंगे

यूपीः बीत गया नवरात्र, सड़के अभी गड्ढा युक्त हैं सीएम साहब, अधिकारी कब जागेंगे

उत्तर प्रदेश में किसी चुनावी वादे को निभाने की बात आती है तो दिमाग में सबसे पहले प्रसिद्ध कहावत याद आती है कि ‘वादे तोड़ने के लिए ही होते हैं.’ मार्च 2017 में सीएम योगी आदित्यनाथ ने जब कार्यभार संभाला था, तो उन्होंने उसी साल 15 जून तक राज्य की सभी सड़कों को गड्ढामुक्त...